March 05, 2024
Hindi Hindi
शौर्यपथ

शौर्यपथ

     रायपुर / शौर्यपथ / खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग के मंत्री और सूरजपुर जिले के प्रभारी मंत्री दयालदास बघेल ने जिला प्रशासन के विभागीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने सभी अधिकारियों को उनके दायित्वों को पूर्ण निष्ठा के साथ करने के निर्देश दिये है। जिससे कि शासन की हर योजना का लाभ अंतिम पंक्ति के  पात्र व्यक्ति तक पहुंच सके। आर्थिक रूप से कमजोर और गरीब व्यक्ति शासन की किसी भी योजना से वंचित न हो सके। महिला एवं बाल विकास मंत्री श्री लक्ष्मी राजवाड़े उपस्थित थी।
 खाद्य मंत्री ने सभी उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से पात्र हितग्राहियों को राशन उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। आमजन की मूलभूत आवश्यकताएं पानी, बिजली, शिक्षा व चिकित्सा की पूर्ति हो यह सुनिश्चित करना प्रशासन की प्राथमिकता में होना चाहिए। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को सभी कार्यों की निरंतर मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए हैं। कार्य में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के विरूद्ध कार्यवाही करने के लिए कहा।
      बैठक में महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती लक्ष्मी राजवाड़े ने कहा कि जनप्रतिनिधि होने के नाते क्षेत्र की जनता उनके समक्ष अपनी समस्याओं को रखती हैं, जिन्हें समय-समय पर संबंधित अधिकारियों के संज्ञान में लाया जाता है, इन समस्याओं का निराकरण संबंधित विभाग के अधिकारियों द्वारा निश्चित समयबद्ध अवधि में पूर्ण किया जाना सुनिश्चित होना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि शासन और प्रशासन का सामंजस्य बहुत महत्वपूर्ण है यदि हम एक साथ आगे बढ़ेंगे तो हमारे जिले का सकारात्मक विकास होगा।
  समीक्षा बैठक में खाद्य मंत्री ने मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण, स्वच्छ भारत मिशन, एनआरएलएम, खाद्य विभाग अंतर्गत राशन कार्ड नवीनीकरण, महिला एवं बाल विकास अंतर्गत महतारी वंदन योजना, आयुष्मान कार्ड विभिन्न बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा की गई। प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत सही मायने में जरूरतमंद लोगों को प्राथमिकता मिली इसके लिए सर्वे सूची का परीक्षण करने के लिए भी निर्देशित किया गया। इसके साथ ही एकल शिक्षक वाले विद्यालय, जल जीवन अंतर्गत प्रगतिरत कार्यों की वस्तु स्थिति और सड़कों की वस्तु स्थिति जैसे गंभीर मुद्दों को लेकर भी बैठक में चर्चा की गई जिसमें संबंधित अधिकारियों को कार्य में कसावट लाने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।
   बैठक में प्रेम नगर विधायक भूलन सिंह मराबी, प्रतापपुर विधायक श्रीमती शकुंतला सिंह पोर्ते श्रीमती रंजनी रवि शंकर, राजेश अग्रवाल, शशिकांत गर्ग, अजय अग्रवाल, थलेश्वर साहू, राम कृपाल साहू, श्रीमती शांति सिंह व अन्य जनप्रतिनिधि, कलेक्टर रोहित व्यास, डीएफओ पंकज कमल व अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

15 मार्च तक राशन कार्ड का नवीनीकरण कार्य किए जाएंगे 

  रायपुर / शौर्यपथ / छत्तीसगढ़ में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत वर्तमान में प्रचलित सभी 77 लाख राशनकार्डों के नवीनीकरण का कार्य जारी है। 04 मार्च की स्थिति में 69 लाख 4 हजार 329 राशन कार्डधारियों ने नवीनीकरण के लिए आवेदन प्रस्तुत किया गया है। छुटे हुए राशनकार्डधारी हितग्राहियों का नवीनीकरण का कार्य के लिए तारीख 15 मार्च 2024 तक बढ़ा दी गई है।
  गौरतलब है कि राशनकार्ड नवीनीकरण का कार्य 15 मार्च 2024 तक किया जाएगा। विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार राशनकार्ड नवीनीकरण के लिए खाद्य विभाग के द्वारा खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोेक्ता संरक्षण विभाग का नया मोबाईल एप्प तैयार किया गया है, इसे प्ले स्टोर में जाकर डाउनलोड किया जा सकता है। हितग्राही द्वारा खाद्य विभाग की वेबसाइट http://khadya.cg.nic.in/    से डाउनलोड किया जा सकता है।

मुख्यमंत्री साय करेंगे हरी झंडी दिखा कर रवाना ,श्रद्धालुओं का पहला जत्था आज होगा रवाना

रायपुर / शौर्यपथ / छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विष्णु देव साय श्रीरामलला दर्शन योजना के लिए छत्तीसगढ़ से अयोध्या तक चलाई जा रही विशेष ट्रेन को 05 मार्च कोहरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। इस मौके पर पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री बृजमोहन अग्रवाल भी उपस्थित रहेंगे। मुख्यमंत्री साय रामलला दर्शन के लिए जाने वाली विशेष  ट्रेन को 05 मार्च की सुबह 10.30 बजे रायपुर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नम्बर 07 से हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। इस विशेष ट्रेन में रायपुर संभाग के सभी 05 जिलों के 850 श्रद्धालुओं को अयोध्या धाम का दर्शन कराया जाएगा।
  गौरतलब है कि 12 कोच वाली इस ट्रेन में एक बार में छत्तीसगढ़ के करीब 850 श्रद्धालु रामलला के दर्शन करने अयोध्या जा सकेंगे। इस विशेष ट्रेन का संचालन 5 मार्च से प्रारंभ हो रहा है।
  पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने  कहा कि मुख्यमंत्री विष्णु देव साय के नेतृत्व में हमारी सरकार बड़ी तेजी से मोदी जी की गारंटी को पूरा करने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि श्री रामलला दर्शन योजना के तहत श्रद्धालुओं को पूरा पैकेज मिलेगा जिसमें छत्तीसगढ़ से अयोध्या जाने, वहां रहने की व्यवस्था, मंदिर दर्शन, नाश्ते और खाने की भी व्यवस्था रहेगी।  इस ट्रेन में टूर एस्कॉर्ट, सुरक्षा कर्मी और चिकित्सकों का दल भी मौजूद रहेगा।
   पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री अग्रवाल ने बताया कि सभी जिला कलेक्टरों ने हितग्राहियों से निर्धारित प्रारूप में आवेदन प्राप्त कर उनकी जांच की है और जिलेवार निर्धारित कोटे के अनुसार यात्रियों की सूची तैयार की है। सूची आईआरसीटीसी और छत्तीसगढ़ पर्यटन मंडल नोडल एजेंसी को भेजी गई। प्रत्येक जिले से 40 यात्रियों पर एक अनुरक्षक भी भेजा जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि आने वाले समय में अयोध्या के साथ-साथ इस ट्रेन के माध्यम से काशी में भगवान विश्वनाथ के दर्शन और प्रयागराज तीर्थ भ्रमण की व्यवस्था भी की जाएगी।

आर्यभट्ट भवन और पुस्तकालय भवन का लोकार्पण

 रायपुर / शौर्यपथ / मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने आज छत्तीसगढ़ स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय भिलाई के परिसर में 22.96 करोड़ रूपए की लागत से नवनिर्मित दो शैक्षणिक भवनों आर्यभट्ट भवन और पुस्तकालय भवन का लोकार्पण किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने आर्यभट्ट भवन पर स्थित महान गणितज्ञ आर्यभट्ट की मूर्ति पर माल्यार्पण किया। आर्यभट्ट प्राचीन भारत के महान गणितज्ञ ज्योतिषविद् एवं खगोल शास्त्र थे। जिन्होंने नवीन और अभूतपूर्व अविष्कारों और सिद्धांतो का निर्माण किया।
  इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री अरूण साव और उप मुख्यमंत्री विजय शर्मा, सांसद विजय बघेल, विधायक दुर्ग ग्रामीण ललित चंद्राकर, विधायक अहिवारा डोमनलाल कोर्सेेवाड़ा, विधायक दुर्ग शहर  गजेंद्र यादव, विधायक रिकेश सेन , विधायक ईश्वर साहू, कमिश्नर सत्यनारायण राठौर, आईजी रामगोपाल गर्ग, कलेक्टर सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी, सहित विश्वविद्यालय के अधिकारी और छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।
10 करोड़ 35 लाख की लागत से बना है आर्यभट्ट भवन
  मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने आज छत्तीसगढ़ स्वामी विवेकांनद तकनीकी विश्वविद्यालय परिसर भिलाई में 10 करोड़ 35 लाख 92 हजार रूपए की लागत से बने नवनिर्मित शैक्षणिक भवन ‘आर्यभट्ट’ का लोकार्पण किया। उन्होंने विश्वविद्यालय के प्राध्यापकों, अधिकारी-कर्मचारियों, छात्र-छात्राओं को नवीन भवन के लिए बधाई दी। गौरतलब है कि नवनिर्मित आर्यभट्ट भवन में विश्वविद्यालय शिक्षण विभाग के अंतर्गत डिप्लोमा, बी-टेक (ऑनर्स ), एम-टेक एवं पी. एच. डी. की कक्षाएं संचालित होंगी एवं इन विद्यार्थियों के ट्रेनिंग एंड प्लेसमेंट हेतु अंतर्राष्ट्रीय कंपनी “न्यूक्लियस टेक“ के कार्यालय का भी यहां संचालन होगा। अधिकारियों ने बताया कि सीएसवीटीयू फाउंडेशन फॉर रूरल टेक्नोलॉजी एंड एंटरप्रेन्योरशिप (सीएसवीटीयू-फोर्टे) का संचालन भी आर्यभट्ट भवन में होगा। इसके तहत नवीन युवा उद्यमियों को इन्क्यूबेशन सेंटर एवं वित्तीय सहायता दी जाएगी, जिससे वे अपना स्टार्ट-अप को इम्प्लीमेंट कर सकेंगे।   
     आर्यभट्ट भवन में स्टार्ट अप का प्रोटोटाइप बनाया जायेगा, जिसका उद्देश्य स्टार्ट-अप इंडिया को बढ़ावा देना है। इसके अंतर्गत जमीनी स्तर की प्रौद्योगिकियों और नवाचारों का लाभ उठाते हुए ग्रामीण/वंचित सामाजिक क्षेत्रों को प्रभावित करना है। सीएसवीटीयू अपने संबद्ध संस्थानों में ग्रामीण उद्यमिता विकास केंद्र (आरईडीसी) बनाएगा, जहां छात्रों को ग्रामीण संसाधनों से उत्पन्न नवीन और बाजार अनुकूल उत्पादों की खोज के लिए वित्तीय और परामर्श प्रदान की जाएगी। बिजनेस मॉडल और प्रौद्योगिकी वाले कुछ स्टार्ट-अप को आरईसी, नई दिल्ली के सी. एस. आर. से सीएसवीटीयू भिलाई में शुरू किया जाएगा।

आईटी के क्षेत्र में टेक्निकल यूनिवर्सिटी का कार्य काबिले तारीफ
मुख्यमंत्री ने दुर्ग संभाग के लिए 268 करोड़ रूपए की लागत के विकास कार्याें का किया लोकार्पण और भूमिपूजन
सीएसवीटीयू भिलाई के नवनिर्मित आर्यभट्ट भवन का शुभारंभ
    रायपुर/शौर्यपथ / मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने कहा है कि टेक्नालॉजी की पढ़ाई कर रहे युवाओं को अब भिलाई में ही इन्फॉरमेशन टेक्नालॉजी के क्षेत्र में बेहतर ट्रेनिंग मिलेगी और अंतर्राष्ट्रीय कम्पनियों के साथ काम करने का अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के युवाओं के लिए विश्वविद्यालय की यह पहल बहुत सराहनीय है। वे आज छत्तीसगढ़ स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय परिसर में नवनिर्मित आर्यभट्ट भवन के शुभारंभ कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे।
    मुख्यमंत्री ने कहा कि आर्यभट्ट भवन में अमेरिका की आईटी सेक्टर की कम्पनी कार्यरत है, जिसके प्रमुख छत्तीसगढ़ से है और वे अमेरिका में रहते हैं। बतौर छत्तीसगढ़िया मेरे साथ-साथ यह प्रदेशवासियों के लिए बड़े गर्व की बात है। उन्हांेने कहा कि इस कम्पनी के माध्यम से प्रदेश के सैकड़ों युवा रोजगार के साथ शोध और अनुसंधान के क्षेत्र में भी कार्य कर पाएंगे। इस दौरान मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय ने दुर्ग संभाग अंतर्गत विभिन्न जिलों के लिए 268 करोड़ 56 लाख रूपए की लागत के 26 विकास कार्याें का लोकार्पण-शिलान्यास किया। साथ ही आर्यभट्ट भवन निर्माण कार्य में संलग्न श्रमवीरों को शॉल एवं श्रीफल देकर सम्मानित किया।
    मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज एक साथ ढ़ाई सौ करोड़ रूपए से अधिक लागत के विकास कार्याें का लोकार्पण व भूमिपूजन हुआ है। जिसका लाभ संभाग के सभी जिलेवासियों को मिलेगा। मुख्यमंत्री श्री साय ने कहा कि पहली कैबिनेट में ही प्रदेश के गरीबों को प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत 18 लाख आवास स्वीकृत करने का निर्णय किया गया है। किसानों को धान के दो वर्षाें के बोनस की बकाया राशि 3716 करोड़ रूपए किसानों के खाते में अंतरण किया गया है। वन क्षेत्रों में रहने वाले तेंदूपत्ता संग्राहकों को प्रति मानक बोरा 5 हजार 500 रूपए पारिश्रमिक दिया जाएगा। श्री साय ने कहा कि मोदी जी की गांरटी के मुताबिक सरकार महतारी वंदन योजना के पात्र हितग्राही महिलाओं को प्रतिमाह एक हजार रूपए शीघ्र देने जा रही है। योजना अंतर्गत प्रदेश में 70 लाख 74 हजार आवेदन प्राप्त हुए है। सरकार सभी पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित करेगी। उन्होंने कहा कि इस वर्ष प्रदेश में किसानों से रिकार्ड 145 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी 3100 रूपये प्रति क्विंटल के मान से खरीदी हुई है। किसानों को समर्थन मूल्य के भुगतान पश्चात अंतर की राशि भी किसानों के खातों में शीघ्र अंतरित की जाएगी। मुख्यमंत्री श्री साय ने प्रतियोगी परीक्षाओं के प्रतिभागियों को सरकार की गारंटी से अवगत कराते हुए कहा कि राज्य प्रशासनिक सेवा परीक्षा में हुई गड़बड़ियों की जांच सीबीआई को सौंपी गई है।
    प्रदेश के उप मुख्यमंत्री श्री अरूण साव और श्री विजय शर्मा तथा विधायक श्री डोमन लाल कोर्सेवाड़ा, श्री ललित चन्द्राकर, श्री गजेन्द्र यादव, श्री रिकेश सेन, श्री ईश्वर साहू एवं सांसद श्री विजय बघेल विशेष रूप से उपस्थित थे। इस अवसर पर मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने टेक्निकल यूनिवर्सिटी में आर्यभट्ट भवन निर्माण कार्य में संलग्न श्रमवीरों को शॉल एवं श्रीफल देकर सम्मानित किया। समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री साय ने कहा कि आर्यभट्ट भवन में अमेरिका की कम्पनी आईटी सेक्टर में कार्यरत है। कंपनी सैकड़ों युवाओं को आईटी में प्रशिक्षित कर, विदेश में कार्य का अवसर भी देगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि विश्वविद्यालय का यह प्रयास तारीफ के काबिल है।
    उप मुख्यमंत्री श्री अरुण साव ने आज के दिन को ऐतिहासिक बताते हुए कहा कि आज संभागवासियों को ढ़ाई सौ करोड़ के कार्यों की सौगात मिली है। छत्तीसगढ़ को सजाने और संवारने का सिलसिला शुरू हो गया है। जिले के प्रभारी मंत्री श्री विजय शर्मा ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज का यह आयोजन आम जनता के लिए है। उन्होंने टेक्निकल यूनिवर्सिटी के कार्यों को विस्तार पूर्वक रेखांकित किया। साथ ही उन्होंने केंद्र और राज्य की प्रस्तावित कार्ययोजना की भी जानकारी साझा की। समारोह को सांसद श्री विजय बघेल ने भी सम्बोधित किया।
   समारोह में संभागायुक्त श्री एस.एन. राठौर ने दुर्ग संभाग का शासकीय प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। सीएसवीटीयू के कुलपति डॉ. एम.के.वर्मा ने विश्वविद्यालय की गतिविधियों पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर विधायक श्री डोमन लाल कोर्सेवाड़ा, श्री ललित चन्द्राकर, श्री गजेन्द्र यादव, श्री रिकेश सेन एवं श्री ईश्वर साहू, पूर्व विधायक श्री लाभचंद बाफना, नगर निगम रिसाली की महापौर श्रीमती शशि सिन्हा, कलेक्टर सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी, पुलिस अधीक्षक श्री जितेन्द्र शुक्ला, जिला एवं पुलिस प्रशासन के अधिकारीगण, गणमान्य नागरिक, युनिवर्सिटी के अधिकारी एवं विद्यार्थीगण उपस्थित थे।

प्रदेशस्तरीय आयोजन में होगा नववधुओं का सम्मान
 शत प्रतिशत  मतदान में युवाओं की भूमिका होगी अहम
कम मतदान वाले क्षेत्रों में मतदाता जागरूकता के लिए चलेगा विशेष अभियान
   रायपुर /शौर्यपथ /मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्रीमती रीना बाबा साहेब कंगाले ने कहा है कि लोकसभा आम निर्वाचन के महापर्व में मतदाताओं की भूमिका अहम है। निर्वाचन महापर्व में प्रत्येक मतदाता के मत की अपने क्षेत्र और देश के भविष्य का निर्माण करने में महत्वपूर्ण भूमिका है। प्रत्येक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए मतदान केन्द्र तक पहुँचे, यह निर्वाचन आयोग का लक्ष्य है। मतदाता जागरूकता कार्यक्रम मतदाताओं को मताधिकार के लिए प्रेरित करने  का एक बहुत महत्वपूर्ण माध्यम है। श्रीमती कंगाले आज मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में आयोजित राज्य स्तरीय स्वीप कोर कमेटी की बैठक को संबोधित कर रहीं थीं।
   मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्रीमती कंगाले ने कहा कि  आगामी एक माह में राज्य स्तर पर विभिन्न मतदाता जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।  उन्होंने कहा कि स्वीप (सिस्टमेटिक वोटर्स एजुकेशन एंड इलेक्टोरल पार्टिसिपेशन ) कार्यक्रम के तहत आगामी 17 मार्च को नववधु सम्मान समारोह का राज्य स्तरीय आयोजन किया जाएगा। इसमें नवविवाहित वधुओं को सम्मानित किया जाएगा ।
          मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा कि कम मतदान प्रतिशत वाले क्षेत्रों में मतदाता जागरूकता कार्यक्रम विशेष तौर पर आयोजित किए जाएं। उन्होंने इसके लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, महाविद्यालयों के विद्यार्थियों तथा एनएसएस, एनसीसी और स्कॉउट गाइड के युवाओं के माध्यम से युवा मतदाताओं को प्रेरित करने के लिए कार्यक्रम आयोजित करने के निर्देश दिए।
   उन्होंने कहा कि शत प्रतिशत मतदान सुनिश्चित करने में युवाओं की बड़ी भूमिका होगी। युवा मतदाता न केवल स्वयं मतदान के लिए आगे आएं बल्कि अन्य मतदाताओं को भी मतदान केन्द्र तक आकर मताधिकार का प्रयोग करने के लिए प्रेरित करें।
   श्रीमती कंगाले ने बीते विधानसभा निर्वाचन- 2023 में मतदाता जागरूकता कार्यक्रम और मतदान दिवस पर मतदान केन्द्रों में नेशनल सर्विस स्कीम (एनएसएस), नेशनल कैडेट कोर (एनसीसी) तथा स्कॉउट गाइड  की भूमिका की प्रशंसा भी की। इसके अलावा उन्होंने पूरी निर्वाचन प्रक्रिया में आँगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की भूमिका को अहम बताया और बीते निर्वाचन के दौरान उनके कार्यों की सराहना की।
    बैठक के दौरान उन्होंने स्पष्ट किया है कि किसी भी मतदाता जागरूकता के कार्यक्रम में 14 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को शामिल नहीं किया जाए।
   श्रीमती कंगाले ने मतदाता जागरूकता के तहत जिला स्तर पर आयोजित किए जा रहे कार्यक्रमों को महत्वपूर्ण बताया । बैठक के दौरान उन्होंने विभिन्न विभागों से प्राप्त महत्वपूर्ण सुझावों पर चर्चा की। उन्होंने महिला बाल विकास विभाग, उच्च शिक्षा, स्कूल शिक्षा, नेहरू युवा केन्द्र, दूरदर्शन , आकाशवाणी , जनसंपर्क विभाग सहित अन्य विभागों एवं संस्थानों के समन्वय से पूरे प्रदेश में मतदाता जागरूकता के कार्यक्रम चलाए जाने पर जोर दिया।
                बैठक में अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री निलेशकुमार महादेव क्षीरसागर, संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी द्वय श्री पी एस ध्रुव तथा डॉ के आर आर सिंह, सहायक मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्रीमती शारदा अग्रवाल, राष्ट्रीय सेवा योजना की राज्य अधिकारी डॉ नीता वाजपेयी, महिला बाल विकास विभाग के संयुक्त संचालक श्री नंदलाल चौधरी, भारत स्कॉउट गाइड की राज्य समन्वयक श्रीमती सरिता पांडेय, पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार डॉ शैलेन्द्र कुमार पटेल, पियाली फाउंडेशन की निदेशक डॉ मीता मुखर्जी सहित नेहरू युवा केन्द्र, दूरदर्शन, आकाशवाणी तथा जनसंपर्क विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

विभागीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली
  रायपुर/शौर्यपथ /खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग के मंत्री और सूरजपुर जिले के प्रभारी मंत्री श्री दयालदास बघेल ने जिला प्रशासन के विभागीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने सभी अधिकारियों को उनके दायित्वों को पूर्ण निष्ठा के साथ करने के निर्देश दिये है। जिससे कि शासन की हर योजना का लाभ अंतिम पंक्ति के  पात्र व्यक्ति तक पहुंच सके। आर्थिक रूप से कमजोर और गरीब व्यक्ति शासन की किसी भी योजना से वंचित न हो सके। महिला एवं बाल विकास मंत्री श्री लक्ष्मी राजवाड़े उपस्थित थी।
 खाद्य मंत्री ने सभी उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से पात्र हितग्राहियों को राशन उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। आमजन की मूलभूत आवश्यकताएं पानी, बिजली, शिक्षा व चिकित्सा की पूर्ति हो यह सुनिश्चित करना प्रशासन की प्राथमिकता में होना चाहिए। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को सभी कार्यों की निरंतर मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए हैं। कार्य में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के विरूद्ध कार्यवाही करने के लिए कहा।
      बैठक में महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती लक्ष्मी राजवाड़े ने कहा कि जनप्रतिनिधि होने के नाते क्षेत्र की जनता उनके समक्ष अपनी समस्याओं को रखती हैं, जिन्हें समय-समय पर संबंधित अधिकारियों के संज्ञान में लाया जाता है, इन समस्याओं का निराकरण संबंधित विभाग के अधिकारियों द्वारा निश्चित समयबद्ध अवधि में पूर्ण किया जाना सुनिश्चित होना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि शासन और प्रशासन का सामंजस्य बहुत महत्वपूर्ण है यदि हम एक साथ आगे बढ़ेंगे तो हमारे जिले का सकारात्मक विकास होगा।
समीक्षा बैठक में खाद्य मंत्री ने मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण, स्वच्छ भारत मिशन, एनआरएलएम, खाद्य विभाग अंतर्गत राशन कार्ड नवीनीकरण, महिला एवं बाल विकास अंतर्गत महतारी वंदन योजना, आयुष्मान कार्ड विभिन्न बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा की गई। प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत सही मायने में जरूरतमंद लोगों को प्राथमिकता मिली इसके लिए सर्वे सूची का परीक्षण करने के लिए भी निर्देशित किया गया। इसके साथ ही एकल शिक्षक वाले विद्यालय, जल जीवन अंतर्गत प्रगतिरत कार्यों की वस्तु स्थिति और सड़कों की वस्तु स्थिति जैसे गंभीर मुद्दों को लेकर भी बैठक में चर्चा की गई जिसमें संबंधित अधिकारियों को कार्य में कसावट लाने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।
   बैठक में प्रेम नगर विधायक श्री भूलन सिंह मराबी, प्रतापपुर विधायक श्रीमती शकुंतला सिंह पोर्ते श्रीमती रंजनी रवि शंकर, श्री राजेश अग्रवाल, श्री शशिकांत गर्ग, श्री अजय अग्रवाल, श्री थलेश्वर साहू, श्री राम कृपाल साहू, श्रीमती शांति सिंह व अन्य जनप्रतिनिधि, कलेक्टर श्री रोहित व्यास, डीएफओ पंकज कमल व अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री कन्या विवाह कार्यक्रम में नव दंपत्तियों को देंगे आशीर्वाद
बस्तर संभाग के लिए 208.32 करोड़ रूपए से अधिक लागत के 643 विकास कार्यों का करेंगे लोकार्पण-भूमिपूजन
  रायपुर /शौर्यपथ / मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय 5 मार्च को चित्रकोट महोत्सव-2024 का उद्घाटन करेंगे। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री साय मुख्यमंत्री कन्या विवाह कार्यक्रम के तहत 340 नव दंपत्तियों को आशीर्वाद भी प्रदान करेंगे। साथ ही इस मौके पर वे बस्तर संभाग के लिए 208.32 करोड़ रूपए से अधिक लागत के 643 विकास कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन करेंगे।
मुख्यमंत्री 104 करोड़ 20 लाख रूपए की लागत से 177 विकास कार्यों का लोकार्पण और 104 करोड़ 11 लाख रूपए की लागत से 466 विकास कार्यों का भूमिपूजन-शिलान्यास करेंगे।
मुख्यमंत्री द्वारा लोकार्पण किए जाने वाले कार्यों में बस्तर जिले के 12 करोड़ 40 लाख 69 हजार की लागत से 31 विकास कार्य, सुकमा जिले के 10 करोड़ 27 लाख की लागत के 08 विकास कार्य, नारायणपुर जिले के 35 लाख 24 हजार की लागत के तीन विकास कार्य, बीजापुर जिले के 25 करोड़ 83 लाख 18 हजार की लागत के 104 विकास कार्य, कोण्डागांव जिले के एक करोड़ 08 लाख 46 हजार की लागत के 15 विकास कार्य, कांकेर जिले के 47 करोड़ 10 लाख 70 हजार की लागत के 14 विकास कार्य और दंतेवाड़ा जिले के 07 करोड़ 15 लाख 28 हजार की लागत के 02 विकास कार्य का लोकार्पण करेंगे।
इसी तरह भूमिपूजन-शिलान्यास के कार्यों में बस्तर जिले में 10 करोड़ 45 लाख रूपए की लागत के 108 विकास कार्य, सुकमा जिले में 08 करोड़ 50 लाख रूपए की लागत के 06 विकास कार्य, नारायणपुर जिले में 08 करोड़ 73 लाख रूपए की लागत के 14 विकास कार्य, बीजापुर जिले में 10 करोड़ 43 लाख रूपए की लागत के 70 विकास कार्य, कोण्डागांव जिले में 04 करोड़ 28 लाख रूपए की लागत के 07 विकास कार्य, कांकेर जिले में 23 करोड़ 47 लाख रूपए की लागत के 29 विकास कार्य और दंतेवाड़ा जिले में 38 करोड़ 22 लाख रूपए की लागत के 232 विकास कार्य शामिल हैं।
इस कार्यक्रम में वन एवं सहकारिता मंत्री श्री केदार कश्यप, उच्च शिक्षा मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती लक्ष्मी राजवाड़े, सांसद श्री दीपक बैज, विधायक जगदलपुर श्री किरण देव, विधायक बस्तर श्री लखेश्वर बघेल, चित्रकोट विधायक श्री विनायक गोयल, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती वेदवती कश्यप, जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री मनीराम कश्यप, महापौर श्रीमती सफीरा साहू, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती पदमा कश्यप, जनपद पंचायत लोहण्डीगुडा अध्यक्ष श्री महेश कश्यप, सरपंच चित्रकोट श्रीमती बुटकी कश्यप विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहेंगे। उद्घाटन समारोह में कवि सम्मेलन, स्कूली छात्र-छात्राओं की प्रस्तुति, लोक नर्तकदलों की प्रस्तुति और ब्लिस डांस ट्रुप की सांस्कृतिक प्रस्तुति होगी।

15 मार्च तक राशन कार्ड का नवीनीकरण कार्य किए जाएंगे
  रायपुर/शौर्यपथ /छत्तीसगढ़ में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत वर्तमान में प्रचलित सभी 77 लाख राशनकार्डों के नवीनीकरण का कार्य जारी है। 04 मार्च की स्थिति में 69 लाख 4 हजार 329 राशन कार्डधारियों ने नवीनीकरण के लिए आवेदन प्रस्तुत किया गया है। छुटे हुए राशनकार्डधारी हितग्राहियों का नवीनीकरण का कार्य के लिए तारीख 15 मार्च 2024 तक बढ़ा दी गई है।
   गौरतलब है कि राशनकार्ड नवीनीकरण का कार्य 15 मार्च 2024 तक किया जाएगा। विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार राशनकार्ड नवीनीकरण के लिए खाद्य विभाग के द्वारा खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोेक्ता संरक्षण विभाग का नया मोबाईल एप्प तैयार किया गया है, इसे प्ले स्टोर में जाकर डाउनलोड किया जा सकता है। हितग्राही द्वारा खाद्य विभाग की वेबसाइट http://khadya.cg.nic.in/    से डाउनलोड किया जा सकता है।

मुख्यमंत्री श्री साय करेंगे हरी झंडी दिखा कर रवाना
श्रद्धालुओं का पहला जत्था 5 मार्च को हो रहा रवाना
  रायपुर/शौर्यपथ / छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय श्रीरामलला दर्शन योजना के लिए छत्तीसगढ़ से अयोध्या तक चलाई जा रही विशेष ट्रेन को 5 मार्च को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। इस मौके पर पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल भी उपस्थित रहेंगे। मुख्यमंत्री श्री साय श्री रामलला दर्शन के लिए जाने वाली विशेष  ट्रेन को कल सुबह 10.30 बजे रायपुर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नम्बर 07 से हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। इस विशेष ट्रेन में रायपुर संभाग के सभी 05 जिलों के 850 श्रद्धालुओं को अयोध्या धाम का दर्शन कराया जाएगा।
गौरतलब है कि 12 कोच वाली इस ट्रेन में एक बार में छत्तीसगढ़ के करीब 850 श्रद्धालु श्री रामलला के दर्शन करने अयोध्या जा सकेंगे। इस विशेष ट्रेन का संचालन 5 मार्च से प्रारंभ हो रहा है।
पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल ने  कहा कि मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय के नेतृत्व में हमारी सरकार बड़ी तेजी से मोदी जी की गारंटी को पूरा करने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि श्री रामलला दर्शन योजना के तहत श्रद्धालुओं को पूरा पैकेज मिलेगा जिसमें छत्तीसगढ़ से अयोध्या जाने, वहां रहने की व्यवस्था, मंदिर दर्शन, नाश्ते और खाने की भी व्यवस्था रहेगी।  इस ट्रेन में टूर एस्कॉर्ट, सुरक्षा कर्मी और चिकित्सकों का दल भी मौजूद रहेगा।
पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री अग्रवाल ने बताया कि सभी जिला कलेक्टरों ने हितग्राहियों से निर्धारित प्रारूप में आवेदन प्राप्त कर उनकी जांच की है और जिलेवार निर्धारित कोटे के अनुसार यात्रियों की सूची तैयार की है। सूची आईआरसीटीसी और छत्तीसगढ़ पर्यटन मंडल नोडल एजेंसी को भेजी गई। प्रत्येक जिले से 40 यात्रियों पर एक अनुरक्षक भी भेजा जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि आने वाले समय में अयोध्या के साथ-साथ इस ट्रेन के माध्यम से काशी में भगवान विश्वनाथ के दर्शन और प्रयागराज तीर्थ भ्रमण की व्यवस्था भी की जाएगी।

Page 1 of 2411

हमारा शौर्य

हमारे बारे मे

whatsapp-image-2020-06-03-at-11.08.16-pm.jpeg
 
CHIEF EDITOR -  SHARAD PANSARI
CONTECT NO.  -  8962936808
EMAIL ID         -  shouryapath12@gmail.com
Address           -  SHOURYA NIWAS, SARSWATI GYAN MANDIR SCHOOL, SUBHASH NAGAR, KASARIDIH - DURG ( CHHATTISGARH )
LEGAL ADVISOR - DEEPAK KHOBRAGADE (ADVOCATE)