February 05, 2023
Hindi Hindi
बस्तर

बस्तर (692)

कोंडागांव । शौर्यपथ । महिलाओं को रोजगार से जोड़कर आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से राज्य सरकार द्वारा राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन बिहान का शुभारंभ किया गया है। इन महिलाओं को सशक्त और आत्मनिर्भर बनाने के लिए सरकार के ओर से हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। आज बिहान की महिलाएं समूह से जुड़कर सफलता की नयी कहानियां लिख रही है तथा अपने सपने को पंख दे कर नयी उड़ान भरने को तैयार है। बिहान से जुड़ कर गांव की महिलाएं अपना स्वरोजगार स्थापित कर पारिवारिक खर्चों में हाथ बटा रही हैं साथ ही परिवार और समाज में अपना एक अलग पहचान भी बना रही है।

 कोण्डागांव जनपद पंचायत के चिपावण्ड क्लस्टर के अंतर्गत ग्राम पंचायत पलारी में 21 बिहान समूहों का गठन किया गया है। जिससे यहां के 225 परिवार जुड़ चुके है। इन्हीं में से एक प्रगतिशील समूह गायत्री स्व सहायता समूह की महिलाओं द्वारा कोण्डागांव जिला पंचायत परिसर में कैंटीन का संचालन किया जा रहा है। इस समूह में कुल 10 महिलाएं कार्यरत हैं। समूह द्वारा जिला पंचायत एवं जिला कार्यालय में कार्यरत कर्मियों के साथ इन कार्यालयों में अपने कार्य हेतु आने वाले आगंतुकों को शुद्ध एवं स्वादिष्ट भोजन कराते है। 

 इस संबंध मंे समूह की अध्यक्ष हीरादेवी बघेल बताती हैं कि समूह में जुड़ने से पहले वे सभी पारंपरिक रूप से खेती-किसानी और मेहनत मजदूरी कर अपना जीवनयापन किया करते थे, जिस कारण सभी की आर्थिक स्थिति बहुत कमजोर थी। जहां उन्हे बिहान के अधिकारियों द्वारा कैंटिन संचालन के लिए प्रेरित किया गया। जिसके बाद उन्होने बिहान योजना अंतर्गत समूह निर्माण कर स्वयं का व्यवसाय 2018 में प्रारंभ किया। प्रारंभ में बिहान योजनांतर्गत उन्हे 15 हजार रूपये की अनुदान राशि एवं जिला पंचायत के निकट संचालन हेतु भूमि उपलब्ध करायी गयी थी। इसके साथ 60 हजार रूपये सामुदायिक निवेश कोष के द्वारा निम्न ब्याज दर पर प्राप्त हुआ जिससे उन्होने कैंटिन संचालन प्रारंभ किया था। जिससे उन्हें अतिरिक्त आय का साधन मिल गया और वे निरंतर आर्थिक रूप से सशक्त हो रही है। 

 समूह की सदस्य उमेश्वरी देवांगन ने बताया कि कैंटिन के माध्यम से यहां सुबह के नाश्ते से लेकर दोपहर का भोजन एवं कार्यालयों में होने वाले शासकीय कार्यक्रमों हेतु स्वल्पाहार भी बनाया जाता है। जिससे हमें अच्छी आय प्राप्त हो रही है। वर्ष 2021-22 में समूह को लगभग 30 हजार से 40 हजार रुपये प्रतिमाह की आय प्राप्त हुई थी। जो की वर्ष 2022-23 में बढ़कर लगभग 50 से 60 हजार रुपये प्रतिमाह हो गयी है। इसके अतिरिक्त बीच कैंटिन के विस्तार एवं शेड निर्माण के लिए योजनांतर्गत ही बैंक से 02 लाख तथा ऋण अदायगी पर 03 लाख रुपयों का अतिरिक्त ऋण भी प्राप्त हुआ। जिससे कैंटिन में बैठने एवं कैंटिन की सुरक्षा हेतु फैंसिग कार्य कराया गया। प्राप्त ऋण के भुगतान हेतु प्रतिमाह आय से अंश राशि एकत्रित कर समूह द्वारा अब बैंक ऋण का पूर्ण भुगतान कर दिया है। 

 वर्तमान में समूह द्वारा अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए बैंक से 6 लाख रुपए का ऋण लिया गया है। आने वाले समय में समूह के सदस्यों द्वारा टेंट हाऊस खोलकर समूह की आर्थिक स्थिति को और सुदृढ़ करने के तथा व्यवसाय बढ़ाने की योजना तैयार की गयी है। ताकि सदस्यों की प्रति व्यक्ति आय में वृद्धि की जा सके। समूह की महिलाएं बताती है कि बिहान से जुड़ने के पश्चात वे सभी अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा प्रदान करने के साथ पारिवारिक खर्चों में भी अपना योगदान प्रदान कर पा रही है। जिससे वे सभी बहुत खुश हैं तथा आत्मनिर्भर बनकर गर्व से जीवन यापन कर रही है।

सुकमा/कोण्टा / शौर्यपथ/ छत्तीसगढ़ प्रदेश मे अंतिम छोर सुकमा जिले के कोण्टा मे दो सरकारी कर्मचारियों ने पत्रकार संघ और पत्रकारो को जान से मारने की धमकी देने व गाली गलौज करने पर कोण्टा नगर के पत्रकार रोष व्यक्त करते हुए दोनो कर्मचारियों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है। पुलिस ने शिकायत के आधार पर कार्रवाई शुरू करने कि बात कही है।

दरअसल इतवार रात करीब साढ़े सात बजे कोण्टा के पत्रकार पवन कुमार के साथ वाद विवाद कि घटना हुई । इस दौरान दोनों शासकीय कर्मचारियों ने पत्रकार संघ और कुछ पत्रकारो के नाम लेकर गाली गलौज करने लगे, उस वक्त कोण्टा नगर के सैकड़ों लोग वहा पर मौजूद भी थे। वहा खड़े कई लोगों ने दोनों कर्मचारियों को समझाने कि कोशिश भी किया किंतु शराब के नशे मे नवपदस्थ डीआरजी जवान एम मुकेश एवं अनुविभागिय विभाग कोण्टा के कम्युटर आपरेटर ओलम निर्मल द्वारा पत्रकारिता जगत के तमाम पत्रकारो को अपनी भाषा शैली कि गालियो से नहीं बक्श रहे थे। 

  पवन कुमार के साथ नवपदस्थ आरक्षक एम मुकेश ने आपने सर्विस रायफल से जान से मारने तक कि धमकी दे डाली। सरकार इनको बंदूक देती है ताकि असामाजिक तत्वों व नक्सलियों से लड़े नाकि ऐसे खुले आम किसी को भी मारने की धमकी दे।इससे साफ जाहिर होता की ये भविष्य में किस तरह से कार्य करेंगे। बात यही खत्म नहीं हुआ देर रात दो बार अलग अलग ठिकानो पर पत्रकार पवन कुमार के घर जाकर भी जान से मारने कि धमकी दिया गया हालांकि इस दौरान पुलिस को इसकी सूचना भी दी। दूसरे दिन पत्रकारो ने बैठक रखकर दोनों शासकीय कर्मचारियों के खिलाफ एफ़आईआर करवाने थाना पहुंचे, जहाँ कोण्टा थाना प्रभारी को आपबीती बताते हुय घटना क्रम से अवगत कराया और एफ़आईआर करने और कडी कार्यवाही करने कि मांग किया। 

दोनों सरकारी कर्मचारी द्वारा पत्रकार के साथ और पत्रकार संघ के नाम के साथ किए गए दुर्व्यवहार के मामले को लेकर विभिन्न पत्रकार संगठनों ने निंदा की है। संगठनों ने साफ तौर पर कहा है कि यदि दोषी के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाती है तो उग्र आंदोलन किया जाएगा।छत्तीसगढ़ में पत्रकारों की सुरक्षा के लिए समिति के गठन के बाद सरकार छत्तीसगढ़ के हर एक जिले में जोखिम प्रबंधन इकाई का गठन करने कि बाते वादे हुयी, जिसमे जोखिम इकाई के सदस्य जिले के कलेक्टर, जिला जनसम्पर्क अधिकारी, पुलिस अधीक्षक और दो पत्रकार भी होंगे लेकिन पत्रकार की पत्रकारिता और कलम पर जिस तरह से पुलिस कर्मचारी और अनुविभागिय विभाग के कर्मचारी ने गाली गलौज कर जान से मारने की धमकी दे डाली, पत्रकारो कि एकता थाने पहुंचकर FIR कर कार्यवाही की मांग के बाद भी जोखिम ईकाई लपता है । ऐसे मे कैसे माने कि छत्तीसगढ़ में भुपेश बघेल कि सरकार पत्रकारो के साथ पत्रकारों की सुरक्षा के लिए कानून बनाने की दिशा में बढ़ने वाला छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य बनेगा ।

विधायक ने किया बालिकाओ से सवाल , सायकल से बढ़ रहा बालिकाओ में शिक्षा के प्रति रूची ,लगातार कर रहे हैं क्षेत्र का दौरा

कोंडागांव । शौर्यपथ । विधायक अपने दौरे को लेकर लगातार सक्रिय नजर आ रहे हैं इसी कड़ी में आज शासकीय हाई स्कूल कचोरा में पहुंचे हस्तशिल्प बोर्ड अध्यक्ष एवं नारायणपुर विधायक चंदन कश्यप ने कन्याओं बांटी सरस्वती सायकल योजना अंतर्गत सायकल । इस दौरान विधायक ने बालिकाओ से उनके शिक्षा के साथ सम्बंधित विषयो पर सवाल करते नजर आये। एवं उनके शिक्षा एवं अन्य गतिविधियों के साथ अपने भविष्य निर्माण की प्रेरणा दी।

 

 

 

2018 में जिला प्रशासन ने चलवाया था जेसीबी,केवल भवन को छतिग्रस्त करके चलता बना था तोड़ू दस्ता

गिरता रहता है छतिग्रस्त मकान का मलबा कई दफ़े हो चुके है वार्डवासी ज़ख्मी

 

कोंडागॉव । शौर्यपथ। चार साल पहले तत्कालीन कलेक्टर समीर बिश्नोई ने बेजा कब्जा धारियों से शासकीय जमीन खाली कराने मुहिम चलाई थी,

जिसके चलते 3 करोड़ से अधिक की शासकीय मूल्य की जमीन कब्जा धारियों से मुक्त करवाई गई थी,जिस जमीन का प्रयोग अन्य शासकीय प्रयोजनों में लाया जा रहा है।लेकिन वहीं प्रशासन के तोड़ू दस्ते का अधूरा तोड़फोड़ अभियान आज लोगो के लिए खतरनाक बन गया है,क्योकि प्रशासन ने कुछ भवनों पर तोड़फोड़ की अधूरी कार्यवाही कर भवनों को छतिग्रस्त कर दिया है, जिसका मलबा यदाकदा राहगीरों व मोहल्ले वासियो पर गिरता रहता है ,जिसके चलते कई लोग घायल भी हो चुके है।अगर प्रशासन समय रहते इन खतरनाक जीर्ण भवनों को पूर्ण रूप से नही गिरवाता है तो कभी भी गंभीर हादसे हो सकते है।ऐसा ही एक जर्जर भवन नहर पारा भगतसिंह वार्ड में खड़ा है, वार्ड वासियों ने प्रशासन द्वारा कार्यवाही के दौरान अधूरे तोड़े भवन को जो खतरनाक स्थिती में अब भी जर्जर खड़ा है,उस भवन को पूर्णरूप से तुड़वाने कई दफे जिला प्रशासन से गुहार लगाई है,लेकिन अब तक समस्या का समाधान नही हो सका है ।

      वहीं वार्ड वासियो ने जानकारी देते कहा कि जर्जर खतरनाक भवन मुख्यमार्ग में ही खड़ा है जहाँ से लोगों की आवाजाही बहुत ज्यादा है, जिससे हमेशा जर्जर भवन के चलते लोगों में भय बना रहता है।

मगर मगर इस जर्जन भवन पर प्रशासन की नजर नहीं पड़ी है जो कभी बड़े हादसे को न्योता दे सकता है सवाल वही कि क्या? किसी के जान जाने के बाद अधूरे थोड़े गए मकान को पूरा थोड़ा जाएगा

जगदलपुर। शौर्यपथ । छत्तीसगढ़ में 76% आरक्षण को लेकर प्रदेशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं। सामान्य वर्ग में सरकार के इस निर्णय को लेकर भारी आक्रोश है। इसी विषय को लेकर सोमवार बैठक जगदलपुर में आहूत की गयी जिसमें सामान्य वर्ग के वरिष्ठ, महिलाएं एवं युवा शामिल हुए।

बैठक में चर्चा के दौरान वक्ताओं ने कहा कि आख़िर सामान्य वर्ग की उपेक्षा कब तक होते रहेगी सरकार जिनके लिये जो करने है करे पर सामान्यवर्ग की हितों के बारे में भी सोचे।

उपस्थित सदस्यों ने चर्चा में आगे कहा कि समान्यवर्ग के अधिकारों को लेकर जल्द चरणबद्ध आंदोलन की तैयारी की जाएगी, सड़क से लेकर न्यायालय तक कि लड़ाई हेतु आगामी शनिवार पुनः बैठक होगी। 

इस दौरान रोहित सिंह आर्य, धर्मचंद शर्मा ,राजेंद्र पांडे, परेश कुमार पांडे, रमापति दुबे ,राहुल पांडे ,अमर झा, बृजेश शर्मा, हरि वेणुगोपाल, दिलीप जाधव, नोहर सिंह राजपूत, प्रकाश जोशी, सुनीता खरे, सेल दुबे समीर मिश्रा ,संजय पांडे ,हरीश पारेख, संजय उपाध्याय ,संदीप सिंह ,मनोहर सिंह, रमाकांत मिश्रा ,भूपेंद्र मिश्रा, अभिलाष भट्ट, देवेंद्र सिंह, क्षमाकांत मिश्रा, दिलीप जाधव, किशोर जाधव, किरण कुमार शुक्ला, सतीश ठाकुर सहित अन्य सदस्य उपस्थित रहे।

कोंडागांव । शौर्यपथ । सोमवार को कलेक्टर दीपक सोनी के द्वारा हरी झंडी दिखाकर मलेरिया जागरूकता रथ को रवाना किया गया। जिसमें मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ0 आरके सिंह, जिला कार्यक्रम प्रबंधक भावना महलवार, जिला मलेरिया सलाहकार इमरान खान, एम्बेड परियोजना फैमिली हेल्थ इंडिया के जिला समन्वयक आजाद यादव एवं एम्बेड परियोजना की टीम उपस्थित रही।

 गौरतलब है कि यह रथ जिले को मलेरिया मुक्त करने के लिए जिला स्वास्थ्य समिति कोण्डागांव और फैमिली हेल्थ इंडिया एम्बेड परियोजना के संयुक्त तत्वाधान में जिले के कोण्डागांव, फरसगांव एवं केशकाल विकासखंड के 191 गाँव में 12 दिसम्बर से 30 दिसम्बर 2022 तक जाकर मच्छर जनित बीमारियों के उन्मूलन हेतु जनजागरूकता एवं व्यवहार परिवर्तन हेतु राज्य की स्थानीय हल्बी एवं गोंडी भाषाओं में 19 दिनों तक जिले के विभिन्न गांव में प्रचार प्रसार करेगा।

कोंडागांव। शौर्यपथ । छत्तीसगढ़ शासन की महत्वाकांक्षी योजना नरवा गरुवा घुरूवा बाड़ी के माध्यम से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को सुदृण करने हेतु पशुधन विकास विभाग निरन्तर प्रयासरत है। इसी क्रम में उन्नत पशुपालन को बढ़ावा देने एवं जनजागरूकता हेतु ग्राम करनपुर में दिनांक 12.12.2022 को डॉ शिशिरकान्त पांडेय उपसंचालक पशु चिकित्सा सेवाएं के निर्देशानुसार डॉ नीता मिश्रा, प्रभारी विकासखंड कोंडागाँव द्वारा विकासखंडस्तरीय पशुमेला का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बालसिंह बघेल एवं श्रीमती रेशमा दीवान, सदस्य जिला पंचायत कोंडागाँव, कुड़ीराम कोर्राम सदस्य जनपद पंचायत कोंडागाँव एवं महादेव कश्यप, सरपंच ग्राम करनपुर की उपस्थिति में सम्पन्न कराया गया। मेले की शुरुवात 8 वर्षीय सुश्री निहारिका सरस्वती शिशु मंदिर द्वारा राजकीय गीत गायन कर किया गया तत्पश्चात शासकीय उच्च माध्यमिक शाला करनपुर की छात्रों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया। मेले में सात वर्गों, संकर बछिया, स्वस्थ बछड़ा, दुधारू गाय, बैल/भैस जोड़ी, सांड, बकरी/बकरा एवं मुर्गी/बतख प्रदर्शनी सह प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें निर्णायक दल में शामिल डॉ हितेश मिश्रा, पशु वैज्ञानिक, कृषि विज्ञान केंद्र बोरगांव, डॉ आकांक्षा, प्रभारी विकासखंड फरसगांव व डॉ दीपिका सिदार द्वारा उत्कृष्ट पशुओ का चयन किया गया । प्रत्येक वर्ग के चयनित पशुपालको को अतिथियो के द्वारा प्रथम, द्वितीय, तृतीय एवं सांत्वना पुरस्कार का वितरण किया गया जिसमे वर्गवार क्रमशः उमेश सोढ़ी, देवशंकर पांडेय, रायचंद राठौर, श्रीमती रेखा कश्यप, दश्रु सोढ़ी, बनसिंघ कश्यप एवं श्री दीपचंद राठौर सहित कुल 42 लोगो को पुरस्कार वितरण किया गया। कार्यक्रम में श्रीमति रेशमा दीवान द्वारा पिछड़े क्षेत्रो में उन्नत पशुपालन को बढ़ावा देने की बात कही गयी वही उपसंचालक, पशुधन विकास विभाग द्वारा वैज्ञानिक पद्धति से पशुपालन करने हेतु लोगो को कृत्रिम गर्भाधान करवाने हेतु प्रोत्साहित भी किया गया। कार्यक्रम के सफल क्रियान्वयन में डॉ आरती मर्सकोले , प्रभारी कृत्रिम गर्भाधान केंद्र कोंडागाँव, डॉ ढालेश्वरी, डॉ कृष्णा कोर्राम, प्रभारी पशुचिकित्सालय मर्दापाल की महत्वपूर्ण भूमिका निभायी। इसके अतिरिक्त कार्यक्रम के सहायक नोडल अधिकारी कार्तिक नेताम द्वारा क्षेत्र में पशुपालन में महत्पूर्ण परिवर्तन लाने हेतु सरपंच द्वारा विशेष रूप से आभार प्रदर्शन किया गया। उक्त कार्यक्रम में श्री फ़क़ीरम कोर्राम उपसरपंच, ग्राम करनपुर, डी. के. नेताम, श्री संजय सोढ़ी, अर्जुन नेताम, अश्वन नेताम, भोलाराम ठाकुर व सुश्री माधुरी गौर स.प.क्षे.अ. संजय सिंह, अकबर, रामसिंह कोर्राम सहित ग्रामप्रमुख, ग्राम पटेल, पुजारी सहित बड़ी संख्या में नागरिक गण उपस्थित रहे।

कोंडागांव । शौर्यपथ । धान उपार्जन केंद्रों से समय पर धान का उठाव ना होने से चिंतित सहकारी समिति संघ ने सोमवार को कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा है ,जिसमें समितियों में खरीदे गए धान का उठाव ना होने से दिनांक 1 दिसंबर से धान खरीदी बंद करने की अपील की गई है। राज्य सरकार द्वारा समर्थन मूल्य पर धान खरीदी की शुरुआत होने के बाद दिनांक 1 नवंबर से जिले के 47 समितियों द्वारा कुल 61 उपार्जन केन्द्रों पर समर्थन मूल्य से धान की खरीदी हो रही है।सभी केन्द्रों में बफर लिमिट से अधिक धान का उपार्जन किया जा चुका है। 1 नवम्बर से आजतक 61 उपार्जन केंद्रों में लगभग 283260.80 क्विंटल धान खरीदी हो चुका है। लेकिन मात्र 24832.00 क्विंटल का उठाव हुआ है।

संतोष साहू जिला अध्यक्ष सहकारी समिति संघ के मुताबिक धान का उठाव नहीं होने से दिनांक 1 दिसम्बर से धान खरीदी बंद कर दी जाएगी। धान का उठाव नहीं होने से पूर्व भांति धान मे सुखत आने पर घाटे की भरपाई राशि व्यक्तिगत तौर से समिति प्रबंधक, खरीदी प्रभारी, आपॅरेटर से की जाती है ,पूर्व में भी लाखों रुपये की भरपाई समितियों द्वारा किया जा चुका ,है इसलिए समय पर धान का उठान नहीं होने के कारण दिनांक 1 दिसम्बर से धान खरीदी बंद की जाएगी। रेणुका पाल समिति दहिकोंगा प्रबंधक ने बताया कि पूर्व में धान उठाव लेट से हुआ था और उसका खामियाजा हम जैसे समिति प्रबंधक लोगों को उठाना पड़ा । मेरे द्वारा धान सुक्ता के नाम पर 10 लखा रुपये पटाया गया । मैने 10 लाख का बैंक से ऋण लेकर पटाई हूं और इस बार भी धान उठाव में लेट लतीफी हो रही हैं क्या इसबार भी हम समिति के लोगों के द्वारा सूक्ति के नाम पर भरपाई करनी पड़ेगी इस लिए संघ ने बैठक कर उठाव नही होने के स्थिति में 1 दिसम्बर को धान खरीदी बंद कर दिया जाएगा।

–सर्व आदिवासी समाज भवन निर्माण को तेजी के साथ संचालित करने दिये निर्देश
– पत्रकार भवन में लायब्रेरी कक्ष को शीघ्र पूरा करने कहा,

कोण्डागांव/ शौर्यपथ / कलेक्टर  दीपक सोनी ने शनिवार को कोण्डागांव नगर में संचालित निर्माण कार्यों का निरीक्षण कर निर्माण कार्यों को योजनाबद्ध ढंग से संचालित कर तकनीकी एवं गुणवत्ता के मानकों का परिपालन करने सहित नियत समयावधि में पूर्ण किये जाने के निर्देश संबंधित निर्माण एजेंसीज को दिए। उन्होने इस दौरान तहसीलपारा में 2 करोड़ रूपए की लागत से निर्मित किये जा रहे सर्व आदिवासी समाज भवन का जायजा लिया और उक्त निर्माण कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता देकर तेजी के साथ संचालित करने निर्देशित किया कि निर्माण कार्य हेतु निर्माण सामग्री, उपकरणों की सुलभता सहित पर्याप्त श्रमिकों की व्यवस्था कर इसे नियमित तौर पर द्रुत गति से संचालित किया जाये। वहीं निरंतर मॉनिटरिंग कर तकनीकी एवं गुणवत्ता के मापदण्डों को सुनिश्चित किया जाये। उन्होने सर्व आदिवासी समाज भवन निर्माण में त्वरित अद्यतन प्रगति लाने पर बल देते हुए उक्त भवन के भूतल को 31 दिसम्बर तक पूरा किये जाने के निर्देश दिए। कलेक्टर  सोनी ने तहसीलपारा में पत्रकार भवन निर्माण का भी जायजा लिया और लायब्रेरी कक्ष के कार्य को शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होने इस दौरान पत्रकार भवन को अच्छा और बेहतर बनाने के लिए पत्रकार संघ के सक्रिय सहभागिता की प्रशंसा की तथा पत्रकार भवन के लायब्रेरी में फर्नीचर एवं पुस्तकें इत्यादि की व्यवस्था हेतु उपस्थित पत्रकारों से चर्चा की। इस दौरान सीएमओ नगरपालिका परिषद कोण्डागांव  दिनेश डे सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे।

Page 1 of 77

हमारा शौर्य

हमारे बारे मे

whatsapp-image-2020-06-03-at-11.08.16-pm.jpeg
 
CHIEF EDITOR -  SHARAD PANSARI
CONTECT NO.  -  8962936808
EMAIL ID         -  shouryapath12@gmail.com
Address           -  SHOURYA NIWAS, SARSWATI GYAN MANDIR SCHOOL, SUBHASH NAGAR, KASARIDIH - DURG ( CHHATTISGARH )
LEGAL ADVISOR - DEEPAK KHOBRAGADE (ADVOCATE)